पटना. आज विजयादशमी के पर्व पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक (आरएसएस) ने अपनी पोशाक औपचारिक तौर पर बदल दी है. अब आरएसएस के कार्यकर्ता हाफ पैंट की जगह फुल पैंट पहने नजर आएंगे. आरएसएस की नई पोशाक पर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने तंज कसते हुए कहा है कि अभी तो पैंट ही नहीं सोच भी बदलवाएंगे.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
लालू ने ट्वीट कर कहा, ‘अभी तो हमने हाफ को फुल पैंट करवाया है, माइंड को भी फुल करवाएंगे, पैंट ही नहीं सोच भी बदलवाएंगे, हथियार भी डलवाएंगे और जहर नहीं फैलाने देंगे.’
 
लालू ने अपनी पत्नी राबड़ी देवी की एक बात का जिक्र भी ट्विटर पर करते हुए कहा कि राबड़ी देवी ने सही कहा था कि इन्हें संस्कृति का ज्ञान नहीं है. लालू ने ट्वीट किया, हमने आरएसएस को फुल पैंट पहनवा ही दिया. राबड़ी देवी ने सही कहा था कि इन्हें संस्कृति का ज्ञान नहीं है, शर्म नहीं आती है. बूढ़े-बूढ़े लोग हाफ पैंट में घूमते रहते हैं.’
 
मोदी ने दिया जवाब
लालू के इस ट्वीट का जवाब देते हुए बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने लिखा कि अब राबड़ी देवी को संघ की पोशाक बदलने के फैसले की प्रशंसा करनी चाहिए क्योंकि वह हाफ पैंट पहने हुए लोगों को देखकर असुविधा होती थी.
 
क्या है मामला ?
बता दें कि राबड़ी ने इस साल जनवरी में एक सवाल के जवाब में संघ पर हमला बोलते हुए कहा था कि ये कैसा संगठन है जहां बूढ़े-बूढ़े लोग भी हाफ पैंट पहनते हैं. जिसके बाद से आरएसएस की ड्रेस का मुद्दा मीडिया में छाया रहा, जिसके बाद संघ ने पोशाक बदलने का ऐलान मार्च के महीने में कर दिया था.