नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी और दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग के बीच ​तनाव खत्म होने के आसार नहीं दिख रहे हैं. उपराज्यपाल ने आज दिल्ली सरकार द्वारा नियुक्त 22 ​वकीलों की नियुक्ति ममाले में जांच के आदेश दे दिए हैं. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इसके अलावा उपराज्यपाल ने सभी फाइलें आॅन रिकॉर्ड रखने का आदेश दिया है. आप पार्टी और उपराज्यपाल नजीब जंग के बीच लंबे समय से टकराव चलता आ रहा है. हाल ही में उपराज्यपाल ने दिल्ली वक्फ बोर्ड को भंग कर दिया था. साथ ही वक्फ बोर्ड पर भ्रष्टाचार के आरोपों, नियमों के उल्लंघन सहित सभी मामले सीबीआई को जांच के लिये भेज दिये थे. 
 
विधायक ने दिय इस्तीफा
इसके बाद आप पार्टी के विधायक और दिल्ली वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सदस्य अमानतुल्लाह खान ने अपने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था. जंग ने दिल्ली सरकार से दिल्ली में कृषि योग्य भूमि पर सर्किल रेट बढ़ाने के लिए पिछले साल लाई गई अधिसूचना को भी वापस लेने के लिए कहा था. 
 
इसके बाद अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल पर हमला बोलते हुए शनिवार को कहा था कि नीजब जंग ने दिल्ली सरकार के फैसलों को अमान्य करार देकर अराजकता के हालात पैदा कर दिए हैं.