कोलकाता. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘वन रैंक, वन पेंशन’ (ओआरओपी) के मसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला. उन्होंने कहा, ‘हमारे सैन्यकर्मी रो रहे हैं और पूछ रहे हैं कि यह कब लागू होगा. लेकिन मोदी कह रहे हैं कि हमसे बाद में पूछिए, क्योंकि हम योगा कर रहे हैं.’  राहुल ने कि यूपीए सरकार ने ओआरओपी के लिए पैसा मंजूर किया था. लोकसभा चुनाव से पहले मोदी ने पूरे देश में घूम-घूम कर कहा था कि जब उनकी सरकार सत्ता में आएगी तो वह ओआरओपी लागू करेंगे, लेकिन एक साल बीत गया है और कुछ नहीं हुआ है. 

उनकी यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब भारतीय पूर्व सैनिक आंदोलन (आईईएसएम) के अधिकारियों ने 14 जून से ओआरओपी के क्रियान्वयन की मांग को लेकर आंदोलन शुरू करने की चेतावनी दी है. इसके अलावा भूमि अधिग्रहण बिल पर भी राहुल ने मोदी की निंदा की. राहुल ने आरोप लगाया कि मोदी ने विधेयक में इस तरह बदलाव किया कि वह उद्योगपति मित्रों के हितों के अनुकूल हो. उन्होंने मोदी सरकार को ‘सूट-बूट की सरकार’ करार देते हुए कहा कि एनडीए चुनाव पूर्व किए वादे पूरे नहीं कर रही है.