लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव के ठीक पहले मुख्यमंत्री अखि‍लेश यादव कड़ा कदम उठाया है. उन्होंने खनन मंत्री गायत्री प्रजापति को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया है. गायत्री प्रजापति कोयला व खनन मंत्री हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मुख्यमंत्री ने राज्यपाल को पत्र लिखकर उन्हें बर्खास्त किए जाने की अपील की है. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अवैध खनन की सीबीआई जांच कराने का आदेश दिया है. बतौर कोयला एवं खनन मंत्री गायत्री प्रजापति पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे हैं. सपा सरकार का यह कदम छवि को बेहतर बनाने की कोशि‍श के तौर पर देखा जा रहा है. 
 
इलाहाबाद कोर्ट ने दिया था सीबीआई जांच के आदेश
गायत्री प्रजापति अमेठी से विधायक हैं. जुलाई में ही इलाहाबाद हाई कोर्ट ने यूपी में अवैध खनन को लेकर सीबीआई जांच के आदेश दिए. उसके बाद से ही गायत्री प्रजापति को लेकर सीएम कार्यालय में सुगबुगाहट बढ़ गई थी.खास बात यह है कि गायत्री प्रजापति को सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव का करीबी भी माना जाता है.