नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के बड़े नेता संजय सिंह पर पैसे लेने और हेरफर करने के आरोप लगने के बाद उन्होंने बहुत बड़ा बयान दे दिया है. संजय सिंह ने कहा है कि अगर आरोप साबित होता है, तो वह राजनीति से संन्यास ले लेंगे. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आप पार्टी के पंजाब में पूर्व संयोजक हरदीप सिंह किंगरा ने एक ऑडियो टेप जारी कर संजय सिंह और प्रदेश सह-संयोजक दुर्गेश पाठक पर फंड में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। साथ ही कहा है कि ये नेता लोगों से मिलने के लिए 5-5 लाख रुपए लेते हैं। किंगरा ने यह भी दावा किया कि आप के पंजाब प्रभारी संजय ने रैलियों में मिले चंदे में हेराफेरी की है। 
 
इस आरोप का जवाब देते हुए संजय सिंह ने चुनौती दी है, ‘अगर 1 रुपये का भी भ्रष्टाचार साबित होगा, तो हम संन्यास ले लेंगे.’ उन्होंने मीडिया पर मानहानी का केस करने की धमकी भी दी. संजय सिंह ने कहा, ‘कुछ मीडिया चैनल मेरे खिलाफ बिना सबूत के खबर दिखा रहे हैं. आॅडियो क्लिप में न तो दुर्गेश पाठक का नाम है और न ही मेरा.’
 
वहीं, संदीप कुमार के मामले पर संजय सिंह ने कहा है कि पुलिस अपने तरीके से जांच करे और जहां तक पार्टी से हटाने का सवाल है, तो मंत्री पद से तो हटा दिया गया है और पार्टी से हटाने के लिए एक प्रक्रिया होती है.