लखनऊ. आगामी उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर राजनीति अभी से गरमाने लगी है और नेताओं की शर्मनाक बयानबाजी भी शुरू हो गई है. बीएसपी के पूर्व नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने यूपी में कांग्रेस की मुख्यमंत्री उम्मीदवार शीला दीक्षित पर एक विवादित बयान दिया है. मौर्य ने शीला को रिजेक्टेड माल बताते हुए कहा कि दिल्ली का रिजेक्टेड माल कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में लाकर बैठा दिया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
क्या कहा मौर्य ने ?
स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि कांग्रेस के नेता नारा देंगे युवाओं का और दिल्ली का रिजेक्टेड माल उत्तर प्रदेश में बैठाएंगे, तो इससे साबित होता है कि कांग्रेस के पास नेताओं का अभाव है. मौर्य ने कहा कि कांग्रेस अपना जनाधार पूरी तरह खो चुकी है और शीला दीक्षित को प्रदेश का मुख्यमंत्री पद का दावेदार बनाना यह साफ दर्शाता है. वहीं मौर्या के इस बयान के बाद के बाद कांग्रेस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है.

 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
सूत्रों के अनुसार स्वामी प्रसाद मौर्य 8 अगस्त को नई दिल्ली में बीजेपी का दामन थाम सकते हैं. मौर्या ने 2 अगस्त को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी. जिसके बाद कयास लगाए जा रहे है कि वो जल्दी ही बीजेपी का दामन थाम सकते हैं. बता दें कि मौर्या ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर टिकटों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए 22 जून को पार्टी छोड़ दी थी. उन्होंने कहा था कि वो दलितों के नाम पर राजनीति करती है, जबकि उनका दलितों के हितों से कोई सरोकार नहीं है.