नई दिल्ली. ऊना में हुई दलितों की बर्बर पिटाई के बाद बसपा प्रमुख मायावती आज गुजरात जाएंगी. बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने बुद्धवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया था कि ऊना में दलित उत्पीड़न कांड के पाड़ित युवकों व उनके परिवार वालों से वह अहमदाबाद में मुलाकात करेंगी. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने संसद परिसर में इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि वह उसी समय ऊना जा कर दलितों के पीड़ित परिवार वालों से मिलने वाली थी और उनके दुख दर्द में शामिल होना चाहती थी. लेकिन भाजपा उन्हें वहां नहीं जाने देने के लिए कई प्रकार के षड्यंत्र करती रही. जिसके चलते वह चाह कर भी ऊना नहीं जा सकी. 
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
उन्होंने आगे कहा कि ऊना कांड के बाद बीजेपी की देश भर में जमकर फजीहत व किरकिरी हुई है. बीएसपी ने इस मामले को संसद के बाहर व राज्यसभा में काफी मजबूती के साथ उठाया था. जिसके चलते बीजेपी ने जानबूझ कर एक राजनीतिक षड्यंत्र के तहत उत्तर प्रदेश के अपने एक वरिष्ठ नेता से मेरे खिलाफ अभद्र व अपशब्द कहलवाकर पार्टी को उलझाने की कोशिश की ताकि ऊना कांड से लोगों का ध्यान हटाया जा सके. इसी कारण उन्हें अपना दौरा उस समय स्थगित करना पड़ा था.