लखनऊ. उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले इस उठा-पटक से राजनीति ने एक नया रुख अख्तियार कर लिया है. बीएसपी सुप्रीमो मायावती को अपशब्द कहे जाने के बाद से बीएसपी और बीजेपी की लड़ाई थमने का नाम नहीं ले रही. यूपी की राजनीति में अब पोस्टर वार शुरु हो गया है.

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर

इलाहाबाद में जगह-जगह पोस्टर लगाए गए हैं. ‘आरक्षण मुक्त महासंग्राम’ नाम के एक संगठन के सदस्य अनुराग शुक्ला और संजय सोनकर की तरफ से ये पोस्टर लगाए गए हैं.

इसमें बीजेपी से निष्कासित दयाशंकर सिंह को लक्ष्मण और उनकी पत्नी स्वाति सिंह को दुर्गा बताया गया है. पोस्टर में बीएसपी प्रमुख मायावती को शूर्पनखा और बीएसपी नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी को रावण बताया गया है. 

Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter

पोस्टर में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को वर्तमान युग का राम बताया गया है. बीएसपी छोड़ चुके स्वामी प्रसाद मौर्य को विभीषण और बीएसपी नेता सतीशचंद्र मिश्रा को मारीच बताया गया है.