लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) सुप्रीमो मायावती के अपमान से भड़के कार्यकर्ताओं ने लखनऊ में बड़े प्रदर्शन के दौरान गाली का जवाब गाली से देते हुए ‘दयाशंकर कुत्ते को गिरफ्तार करो’ के पोस्टर-बैनर लहराए.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पुलिस दयाशंकर सिंह को खोज रही है लेकिन वो गिरफ्तारी के डर से भागते फिर रहे हैं. मायावती ने कहा कि अच्छा होता कि दयाशंकर सिंह के खिलाफ इस मामले में एफआईआर बीजेपी करवाती.
 
 
बीजेपी से 6 साल के लिए निकाल दिए गए दयाशंकर ने मायावती की तुलना वेश्या से करते हुए कहा था कि वो सुबह 1 करोड़ में जिसे टिकट देती हैं उसका टिकट शाम में 2 करोड़ देने वाला आदमी मिलने पर काट देती हैं.
 
 
बीजेपी ने इस बयान पर राज्यसभा में हंगामा के बाद बुधवार को सबसे पहले दयाशंकर को यूपी बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष पद से हटा दिया था और रात में पार्टी से 6 साल के निकाल दिया.
 
 
मायावती ने राज्यसभा में कहा था कि बीजेपी नेता की इस बदजुबानी के कारण अगर देश में हिंसक प्रदर्शन होता है तो उसकी जवाबदेही बीजेपी की होगी.