नई दिल्ली. छुट्टियों से लौटे राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरने की तैयारी कर ली है. रिपोर्ट्स के मुतिबाक राहुल मोदी सरकार को आदिवासी आंदोलन कर घेरने की तैयारी कर रहे हैं. सूत्रों के अनुसार कांग्रेस ने मोदी सरकार पर वन अधिकार अधिनियम (एफआरए) 2006 के उल्लंघन का आरोप लगाया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
इस एक्ट के तहत जंगलों में रह रहे आदिवासियों को यह अधिकार दिया गया है कि बिना किसी हस्तक्षेप के वह जंगलों में रह सकते हैं. 
मगर पूर्व केंद्रीय पर्यावरण मंत्री जयराम रमेश का कहना है कि मोदी सरकार आदिवासियों से उनका आवास छीनने में लगी है.
 
इन सब के बीच गरीबों के मसीहा बनने की कोशिश में लगे राहुल आदिवासी बहुल सात राज्यों( छत्तीसगढ़,तेलंगाना, आंध्र प्रदेश,महाराष्ट्र,ओडिशा तथा झारखंड )में दौरा करने जाएंगे. साथ ही उन्हें उनके आधिकारों के प्रति जागरूक भी करेंगे.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
राहुल ने इस मामले में प्रदेश कांग्रेस कमीटी प्रेसिडेंट और राज्यों में काम करने वाले ngo से रिपोर्ट मांगी है. रिपोर्ट आने के बाद, अगस्त महीने के पहले हफ्ते से राहुल आंदेलन की शुरूआत आंध्रप्रदेश से करेंगे. हर महीने 2 राज्यों के दौरे का टार्गेट सेट किया जाएगा. 7 राज्यों के दौरे के बाद ठीक वैसी ही बड़ी रैली आयोजित की जाएगी जैसी GST बिल के वक्त की गई थी.