लखनऊ. उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले इस उठा-पटक से राजनीति ने एक नया रुख अख्तियार कर लिया है. एक तरफ सीनियर लीडर स्वामी प्रसाद मौर्य बीएसपी छोड़ने के बाद बीजेपी में जाते दिख रहे हैं तो दूसरी तरफ मायावती ने आज साफ-साफ कहा कि मौर्य स्वार्थी हैं जिन्होंने बेटा-बेटी के मोह में पार्टी से गद्दारी की है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मायावती ने कहा कि पार्टी छोड़कर मौर्य ने उन पर उपकार किया है. मौर्य के बीएसपी से निकलने पर पार्टी की सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. मायावती ने आरोप लगाया कि मौर्य का अपने समाज से कोई लेना देना नहीं है बल्कि वो सिर्फ अपने बेटे-बेटी को आगे बढ़ाने की सियासत में लगे हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter