नई दिल्ली. वन रैंक वन पेंशन की बढ़ती मांग के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व सैनिकों और युद्ध में शहीद सैनिकों की विधवाओं से मुलाकात की. राहुल ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी इस मुद्दे पर अपने वादे से मुकर गए हैं. उन्होंनेे कहा कि यूपीए सरकार ने सैनिकों की एक रैंक एक पेंशन योजना की मांग स्वीकार कर ली थी और इसके लिए 8 हजार करोड़ का प्रावधान भी किया था. लेकिन सत्ता में आने के बाद बीजेपी इससे मुकर गई है.

राहुल के कार्यालय की ओर से जारी एक ट्वीट में बताया गया है कि यह मुलाकात कांग्रेस मुख्यालय में हुई. इससे पहले इस मामले पर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को कहा कि रक्षा मंत्रालय पूर्व सैन्यकर्मियों के पेंशन की गणना के तरीकों पर विभिन्न पक्षों से बात कर रहा है. पिछले सप्ताह रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने संभावना जताई था कि सशस्त्र बलों के लिए ‘वन रैंक वन पेंशन’ की योजना को अगले कुछ दिनों में मंजूरी दे दी जाएगी.

IANS