लखनऊ. बीएसपी के तीसरे सबसे बड़े नेता और यूपी विधानसभा में विपक्ष के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने बसपा छोड़ दिया है. मौर्या ने कहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती दलितों की नहीं, दौलत की बेटी हैं जो विधानसभा चुनाव के टिकट करोड़ों में बेच रही हैं. चर्चा है कि मौर्य बीजेपी या सपा में शामिल हो सकते हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मौर्य ने आरोप लगाया कि मायावती दलितों की नहीं, दौलत की बेटी हैं जो विधानसभा चुनावों के टिकट करोड़ों में बेच रही है. उन्होंने कहा कि बसपा में आंबेडकर के विचारों की हत्या हो रही है और दिखावे के लिए आंबेडकरवादी बनकर मायावती बाबा साहब के सपनों को बेचने में लगी हैं.
 
 
मौर्य ने मायावती पर पंचायत चुनावों में बसपा के कार्यकर्ताओं से 2 से 5 लाख रुपए तक लेने का आरोप लगाया. उन्होंंने कहा कि पार्टी में लगनशील कार्यकर्ताओं की कोई कीमत नहीं है. मौर्य ने कहा कि बीएसपी से निकाले गए सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को साथ लेकर वो आगे की लड़ाई लड़ेंगे.