नई दिल्ली. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए एक के बाद एक कई ट्वीट किया.
 
सिसोदिया ने अपने ट्वीटर पेज पर सिलसिलेवार पोस्ट कर हमला करते हुए कहा है कि योग की अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठा हम सबके लिए गर्व का विषय है, लेकिन योग का मतलब सड़क या पार्क में इकट्ठा होकर पीटी एक्सर्साइजेज करना नहीं है.
 
‘योग का मतलब जोड़ना है, तोड़ना नहीं’
उपमुख्यमंत्री ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि योग का मतलब जोड़ना होता है, तोड़ना नहीं. आज देश धर्म, जाति के नाम पर तोड़ा जा रहा है. देश को हिन्दू मुसलमान में, अलग जातियों में तोड़ने की कोशिश करने वाले लोग, योगी नहीं हो सकते. साथ ही योग पर गर्व करने का अधिकार हमें तभी होगा, जब हम देश को जोड़ने वाले बने, तोड़ने वाले नहीं.
 
‘राज्य सरकारों को तोड़ने में कैसा योग?’
इसके अलावा उन्होंने पीएम मोदी को योग दिवस की बधाई देते सवाल किया है कि उनके प्रयास से भी योग को ख्याति मिली है, लेकिन राज्यों में चुनी हुई सरकारों को तोड़ने में कैसा योग है? जहाँ दुनिया योग अनुसंधानों पर हमारी तारीफ करती है वहीं समाज को तोड़ने की राजनीति और उस राजनीति को करने वालों का मज़ाक भी उड़ाती है.
 
‘पंजाब को नशे ने तोड़कर रख दिया’
उन्होंने पंजाब के मौजूदा हालात पर जिक्र करते हुए कहा कि आज जिस पंजाब के लोगों के बीच आप योग कर रहे हैं उसी पंजाब को नशे ने तोड़कर रख दिया है, और ये कौन कर रहा है, आप सबको जानते हैं. उन्होंने आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि पंजाब सरकार में आपके साथी नशे का कारोबार चलाकर समाज की कमर तोड़ रहे है, वहीं आप योग की बात कर रहे हैं, ऐसे योग का क्या फायदा!