मिर्जापुर. बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार शनिवार को यूपी के चुनार विधानसभा क्षेत्र में पार्टी के प्रमंडलीय राजनीतिक सम्मेलन को संबोधित करेंगे. कुमार की यह रैली यूपी में अगले साल होने वाले चुनावी रणनीति के लिए अहम कदम माना जा रहा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पार्टी नेताओं को दी गई जिम्मेदारी
सम्मेलन को जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद शरद यादव, सांसद आरसीपी सिंह व केसी त्यागी समेत अन्य नेता संबोधित करेंगे. पार्टी के इस सम्मेलन को सफल बनाने के लिए बिहार के नेताओं का दल भी कैंप कर रहा है. पार्टी कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों की देखरेख में मंच का निर्माण किया गया है. सम्मेलन स्थल के नजदीक ही एक बीटीसी कॉलेज में जदयू का कैंप कार्यालय बनाया गया है, जहां से पूरे कार्यक्रम की निगरानी की जा रही है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
क्या है रणनीति?
रिपोर्ट्स के अनुसार सम्मेलन में अगले साल होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव 2017 में पार्टी की रणनीति के बारे में नेताओं-कार्यकर्ताओं को बताया जायेगा. साथ ही बिहार में शराबबंदी और सरकार के विकास कार्यों की चर्चा की जायेगी. इसके अलावा जदयू के यूपी नेताओं व कार्यकर्ताओं को बिहार सरकार के इन उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने और पार्टी के चल रहे सदस्यता अभियान को तेजी से करने का भी टास्क दिया जायेगा. जो कि वैकल्पिक राजनीति के लिए बहुत जरूरी है.