मेरठ. कैराना गांव से हिंदू परिवार के पलायन के मुद्दे पर सियासी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है. कैराना में शुक्रवार को सियासी सरगर्मी उस वक्त बढ़ गई, जब प्रशासन की मनाही और धारा 144 लागू होने के बावजूद बीजेपी विधायक संगीत सोम के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सरधना से कैराना की ओर ‘निर्भय यात्रा’ शुरू कर दी. बाद में उन्हें रोक दिया गया गया.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यात्रा रोके जाने के बाद भन्नाये बीजेपी विधायक ने कहा कि वरिष्ठ अधि‍कारियों ने हमें रोका है. उनका कहना है कि क्षेत्र में धारा-144 लागू है. इसलिए बीजेपी ने अपनी यात्रा रोक दी हैं. इसके साथ ही संगीत सोम ने अखि‍लेश सरकार को 15 दिनों का अल्टीमेटम दिया.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
विधायक सोम ने राज्य सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार 15 दिनों में पलायन करने वाले परिवारों को सुरक्षि‍त वापस लौटाए. वरना बीजेपी बड़े स्तर पर प्रदर्शन करेगी. बता दें कि इससे पहले बीजेपी के जवाब में सपा के अतुल प्रधान के नेतृत्व में सद्भावना यात्रा को भी पुलिस ने रोक दिया. सरधना और कैराना में पहले से धारा 144 लागू है.