इलाहाबाद. बीजेपी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण आस्था का मामला है, न कि यह चुनावी मुद्दा है. बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक के उद्घाटन सत्र के बाद केंद्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण आस्था का मामला है. उन्होंने साफ किया कि कार्यसमिति की बैठक में राम मंदिर ममाले पर कोई चर्चा नहीं होगी क्योंकि पार्टी इसे राजनितिक मुद्दा नहीं मानती.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रविशंकर प्रसाद ने कहा पार्टी चाहती है कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हो लेकिन कोर्ट के आदेश से या आपसी सहमति से. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के दौरान राम मंदिर का निर्माण मुद्दा नहीं होगा.
 
रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘अपने संबोधन में अमित शाह जी ने केंद्र सरकार के दो साल के कार्यकाल को सफल बताया. उन्होंने माना कि इन दो वर्षों में दुनियाभर में देश का मान बढ़ा है.’ प्रसाद ने कहा कि पूर्व की यूपीए सरकार में हर मंत्री खुद को पीएम समझता था और पीएम को कुछ नहीं समझता था. वह सरकार पॉलिसी पैरालाइसिस की शिकार थी. मोदी सरकार में देश का विकास दर दो साल में 7.6 फीसदी पर पहुंच गई है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
जानकारी के अनुसार इस बैठक में आने वाले यूपी विधानसभा चुनाव 2017 को लेकर रणनीति पर भी जोर दिया जा रहा है. शाह ने अपने संबोधन में कहा कि यूपी में सरकारी जमीन हथियाने का धंधा चल रहा है. हम यूपी चुनाव जीतने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे.