चिल्लापुर. यूपी में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले बसपा सुप्रीमो मायावती को बड़ा झटका लगा है. गोरखपुर की चिल्लापुर सीट से विधायक राजेश त्रिपाठी ने पार्टी छोड़ दी है. उन्होंने बसपा कार्यक्रताओं को एक पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी है और उनका धन्यवाद किया है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
राजेश त्रिपाठी ने कार्यक्रताओं को भेजे संदेश में लिखा है कि आपसे क्षमा मांगते हुए भारी मन से हम पार्टी से लेना चाह रहे हैं. राजेश त्रिपाठी ने आगे की रणनीति क्या होगी, इसका उन्होंने खुलासा नहीं किया है. हालांकि सूत्रों से पता चला है कि वह बीजेपी का दामन थाम सकते है.
 
कौन हैं राजेश त्रिपाठी?
बता दें कि पेशे से पत्रकार रहे राजेश त्रिपाठी बड़हलगंज में बने ऐतिहासिक मुक्तिपथ के निर्माण से चर्चा में आए. इसके बाद 2007 में चिल्लूपार सीट से बसपा से चुनाव लड़ा. उन्होंने इस सीट पर अपराजेय माने जाने वाले बाहुबलि पंडित हरिशंकर तिवारी को हराकर सबको हैरान कर दिया. बसपा सरकार ने उनकी इस जीत के पुरस्कार स्वरूप उन्हें मन्त्री पद से भी नवाजा था. मुक्तिपथ वाले बाबा राजेश त्रिपाठी ने सपा की लहर में भी जीत हासिल कर बसपा के चिल्लूपार की सीट की सौगात दी.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter