नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी के बीच गठबंधन की सरकार चल रही है. लेकिन कभी कभी दोनों पार्टियां कुछ मुद्दों को लेकर आमने सामने आ जाती है. जम्मू-कश्मीर में कश्मीरी पंडितों को लेकर लेकर भले ही बीजेपी और पीडीपी एक सुर में हों, लेकिन सैनिक कॉलोनी के मसले पर शनिवार को सत्ताधारी गठबंधन के दोनों दल आमने-सामने दिखे.
 
एक ओर बीजेपी चाहती है कि जम्मू की तरह कश्मीर में भी सैनिक कॉलोनी बनें, लेकिन पीडीपी इसके लिए तैयार नहीं है. महबूबा मुफ्ती ने सदन में कॉलोनी के लिए जमीन नहीं होने का रोना रोया. सीएम ने विधानसभा में कहा कि सैनिक कॉलोनी के लिए अभी तक कोई जगह नहीं मिल सकी है.
 
बता दें कि शुक्रवार को इस मुद्दे पर बीजेपी नेता राम माधव ने भी महबूबा मुफ्ती से मुलाकात की थी. इसके अलावा उन्होंने कश्मीरी पंडितों की वापसी और राज्य की नई औद्योगिक नीति जैसे मामलों पर भी विचार-विमर्श किया. उन्होंने महबूबा को जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए केंद्र सरकार से हर संभव सहयोग का भरोसा भी दिलाया.