नई दिल्ली. अगले साल विधानसभा चुनाव देखने जा रहे उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में 12-13 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 12 राज्यों के सीएम, 40 से ज्यादा केंद्रीय मंत्रियों का जमावड़ा लगेगा.
 
इलाहाबाद में पार्टी की दो दिन की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होने जा रही है. इस बैठक के बहाने बीजेपी उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के प्रचार का शंखनाद करेगी. इलाहबाद से जो संदेश निकलेगा उसी के दम पर बीजेपी कार्यकर्ता प्रदेश में हवा बनाएंगे.
 
असम की जीत के बाद बीजेपी और पीएम मोदी के निशाने पर उत्तर प्रदेश है जहां से 80 लोकसभा सांसद चुन कर आते हैं. इसलिए कहते भी हैं कि यूपी दिल्ली की गद्दी तय करता है. बीजेपी अगले एक साल तक यूपी को अपने बड़े कार्यक्रमों के हिसाब से फोकस में रखेगी.
 
26 मई को 2 साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री मोदी यूपी के सहारनपुर में रैली कर रहे हैं तो बीजेपी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक भी इलाहाबाद में करने का फैसला किया है.