लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चलते बहुजन समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मायावती ने बयान दिया है. मायावती ने साफ कर दिया है  कि उनकी पार्टी किसी से गठबंधन नहीं करेगी और वह अकेले ही चुनाव लड़ेगी.
 
मायावती ने कहा कि यूपी में बीएसपी कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी. हमने उत्तराखंड में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस को समर्थन दिया था. हमने सांप्रदायिक ताकतों को रोकने के लिए समर्थन दिया था.
 
मायावती ने कहा कि हमने उत्तराखण्ड में कांग्रेस को जो हमने समर्थन किया है वो चुनाव के लिए नहीं था, केवल सरकार बनाने के लिए था. हम नहीं चाहते हैं कि इस देश में सांप्रदायिक ताकतें मजबूत हों, इसलिए हमने कांग्रेस को समर्थन दिया, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि हम आने वाले चुनावों में उनसे समझौता करेंगे.
 
हम यूपी, उत्तराखंड और पंजाब में आने वाले चुनाव में अकेले चुनाव लड़ेंगे. इस सवाल पर कि क्या यूपी में कोई पोस्ट पोल समझौता करेंगे, मायावती ने कहा कि यूपी में तो हमें जरूरत ही नहीं पड़ेगी. उत्तराखंड में हमारी स्थिति बेहतर होगी.
 
बता दें कि उत्तराखंड में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच फ्लोर टेस्ट कराया गया और बीएसपी ने कांग्रेस को सपोर्ट किया. इससे यही अटकलें लगाई जा रही थी कि यूपी चुनाव में बीएसपी और कांग्रेस की नजदीकियां देखी जाएंगी.