गुवाहाटी. बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है. स्वामी ने कहा है कि  मस्जिद कोई धार्मिक स्थल नहीं है, इसलिए उसे कभी भी तोड़ा जा सकता है. आसाम में स्वामी ने कहा कि  मस्जिद धार्मिक स्थल नहीं होते, बल्कि यह एक सामान्य इमारत होती है, जिसे कभी भी तोड़ा जा सकता है. स्वामी के इस बयान का जबरदस्त विरोध हो रहा है. स्वामी के खिलाफ मामला भी दर्ज कराया गया है.  स्वामी के इस बयान का विरोध करते हुए राज्य के कई संगठनों ने बीजेपी नेता के पुतले जलाए. असम वक्फ बोर्ड, ऑल असम माइनॉरिटी स्टूडेंट्स यूनियन और अन्य मुस्लिम संगठनों ने स्वामी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.