देहरादून. उत्तराखंड हाईकोर्ट के फैसले आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा, ‘मैं कोर्ट के फैसले का स्वागत करता हूं. कोर्ट से  हमेशा न्याय मिला है और आगे भी मिलता रहेगा.’
 
वहीं उन्होंने स्टिंग मामले पर कहा, ‘मैं सभी प्रकार की जांच के लिए तैयार हैं. इसके लिए मैं CBI से सामने भी हाजिर होने के लिए तैयार हूँ. साथ ही उन्होंने कहा यदि अमित शाह, कैलाश विजयवर्गीय और भगत सिंह कोश्यारी नार्को टेस्ट के लिए राजी होते हैं तो सबसे पहले मैं नार्को टेस्ट दूंगा.’
 
बता दें कि उत्तराखंड हाईकोर्ट ने कांग्रेस के नौ विधायकों को अयोग्य करार दे दिया है जिसके बाद वे 10 मई को विधानसभा में होने वाले विश्वास मत की कार्यवाही में भाग नहीं ले सकेंगे.