नई दिल्ली. केंद्र सरकार उत्तराखंड में फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार हो गई है. सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में उत्तराखंड विधानसभा में 10 मई को फ्लोर टेस्ट कराया जाएगा लेकिन कांग्रेस के बागी 9 विधायक इसमें वोट नहीं कर पाएंगे.
 
सुप्रीम कोर्ट में उत्तराखंड राष्ट्रपति शासन मामले की सुनवाई के दौरान आज अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि केंद्र कोर्ट के सुझाव से सहमत है और राज्य में फ्लोर टेस्ट कराने को तैयार है.
 
बागी विधायक नहीं कर पाएंगे वोटिंग
 
सुप्रीम कोर्ट ने बागी विधायकों की वोटिंग पर कहा कि आज की तारीख में 9 बागी विधायक वोट नहीं कर सकते. साथ ही कोर्ट ने बागी विधायकों की इस मांग को भी ठुकरा दिया कि उनकी वोटिंग को सीलबंद लिफाफे में सुप्रीम कोर्ट को सौंप दिया जाए.