लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कद्दावर मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि मुलायम सिंह यादव से बड़े जनाधार वाला कोई दूसरा नेता नहीं है. उनका जनाधार नीतीश कुमार से कहीं अधिक बड़ा है. इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में उत्तर प्रदेश राजस्व (प्रशासनिक) अधिकारी संघ के सम्मेलन में मंत्री ने कहा, “प्रधानमंत्री बनने के लिए नीतीश कुमार कोई भी गठबंधन कर लें, लेकिन वह नेता जी से बड़े जनाधार वाले नेता नहीं हो सकते, रही बात किसी गठबंधन में शामिल होने की, तो निर्णय लेने का अधिकार नेता जी मुलायम सिंह यादव का है.” 
 
उन्होंने कहा कि सपा सरकार जनता के हितों को ध्यान में रखकर काम कर रही है. इसलिए अधिकारियों को चाहिए कि वे जनता के कामों को प्राथमिकता से पूरा कराएं. शिवपाल ने कहा कि तहसीलदार व नायब तहसीलदार जनता को सस्ता व जल्द न्याय दिलाएं, तो उनकी जितनी भी जायज मांगें हैं उन्हें वह प्राथमिकता से पूरा करने पर विचार करेंगे. उन्होंने कहा कि तहसीलदार व नायब तहसीलदार सरकार व जनता के बीच महत्वपूर्ण कड़ी हैं. राज्य सरकार का लक्ष्य उनके बिना पूरा नहीं हो सकता. प्रधानी से लेकर लोकसभा चुनाव तक में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है.
 
राजस्व मंत्री ने कहा कि सपा सरकार वर्ष 2006 में ही राजस्व संहिता संशोधित कर लागू कराना चाहती थी, लेकिन अड़ंगा डालने वालों की वजह से ऐसा नहीं हो सका. अच्छे कामों में रोड़ा डालने वालों की कमी नहीं है। इसलिए ऐसे लोगों के मंसूबों को हमें सफल नहीं होने देना चाहिए.
 
सीतापुर के बिसवां से सपा विधायक रामपाल के लखनऊ में गिराए गए अवैध निर्माण पर पूछे गए सवाल पर शिवपाल ने कहा कि चाहे कोई विधायक हो या फिर आम आदमी, अगर निर्माण अवैध है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा. कानून के मुताबिक उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.