पटना. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने शनिवार को कहा कि राजनीति में विकल्प की तलाश नहीं, बल्कि विकल्प की राजनीति होनी चाहिए, जिसकी शुरुआत अब हो चुकी है. लोकतंत्र में किसी पर अपनी विचारधारा नहीं थोपी जा सकती. बिहार के तीन दिवसीय दौरे पर शनिवार को पटना पहुंचे कन्हैया ने कहा, “देश अभी जिस दौर से गुजर रहा है, उसमें सिर्फ कथनी की बात हो रही है, करनी की नहीं. कथनी और करनी में काफी अंतर है. हम ऐसी विचारधारा के खिलाफ खड़े हुए हैं, जिसमें व्यक्ति विशेष की बात की जा रही है.” 
 
 मैं बिहार का बेटा हूं: कन्हैया 
राजधानी पहुंचने के साथ ही कन्हैया ने कहा कि मैं बिहार में जन्मा हूं और यहां का बेटा हूं. हमारी जड़ें बिहार से जुड़ी हैं और मैं प्रदेश को जानता हूं. कन्हैया कुमार ने कहा कि मेरी बातों से उपजे राजनीतिक विवादों के बाद मैं पहली बार बिहार आया हूं और यहां आकर अच्छा लग रहा है. कन्हैया ने कहा कि मैं यहां किसी राजनीतिक बातचीत या बैठक में नहीं आया हूं बल्कि अपनी बात को लोगों के बीच पहुंचाना चाहता हूं. उन्होंने कहा कि बिहार के लोग भी मेरी बात को समझें और जानें मैं यही चाहता हूं. 
 
जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा पर भी माल्यार्पण किया
उन्होंने कहा, “राजनीति की बातें बाद में होंगी, यहां आना मेरे लिए सुखद है. मैं यहां अपनी बात कहने आया हूं. मैं यही चाहता हूं कि यहां के लोग मेरी बातों को समझें-जानें.” इससे पहले, कन्हैया के पटना हवाईअड्डा पहुंचने पर वामपंथी दलों के कार्यकर्ताओं और युवाओं ने उनका जोरदार स्वागत किया. कन्हैया पटना पहुंचने के बाद सबसे पहले गांधी मैदान गए और वहां स्थापित शहीद-ए-आजम भगत सिंह व राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की. इसके बाद वह कारगिल स्मारक गए और शहीदों के याद किया. इसी क्रम में कन्हैया ने वीर कुंवर सिंह व जयप्रकाश नारायण की प्रतिमा पर भी माल्यार्पण किया.
 
कन्हैया कुमार का कार्यक्रम
कन्हैया कुमार के कार्यक्रम के मुताबिक इस दौरान वो कई बड़े नेताओं से मुलाकात करेंगे. जानकारी के अनुसार कन्हैया आरजेड़ी प्रमुख लालू यादव से भी मुलाकात करेंगे. इस दौरान वो बीजेपी नेता और पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा से भी मुलाकात कर सकते हैं. शत्रुघ्न सिंहा के अलावा वो पटना में कांग्रेस, सपा और बसपा नेताओं से भी मिलेंगे. इसके अलावा रविवार को कन्हैया राजधानी के एसके मेमोरियल हॉल में पब्लिक मीटिंग को संबोधित करेंगे. इस मीटिंग में आजादी के मुद्दे पर बात की जाएगी.