पटना. बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू के नए अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा है कि वो प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं हैं लेकिन वो सबको एकजुट करने का प्रयास जारी रखेंगे. नीतीश ने कहा कि जिसे प्रधानमंत्री बनना होगा, बन जाएगा, वो कैटलिस्ट की भूमिका जरूर निभाएंगे.
 
नीतीश ने कहा कि जैसे बिहार में एकजुट होकर भाजपा को हरा दिए वैसे ही देश में एकजुट हो जाएं तो देश से भी इनका सफाया कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि जिसको पीएम बनना होगा, वो बन जाएगा, लेकिन जो इस पद के लिए अपना नाम लेगा, वो सात जन्म में पीएम नहीं बनेगा. 
 
नीतीश ने बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी और संघ को देश भर में देशभक्ति का सर्टिफिकेट बांटने का हक किसने दिया. नीतीश ने चुटकी लेते हुए कहा कि जो देश की आजादी की लड़ाई नहीं लड़े वो लोगों को देशभक्ति का सर्टिफिकेट बांटते घूम रहे हैं.
 
नीतीश ने कहा कि भाजपा सिर्फ नारे देती है- स्टार्ट अप इंडिया, स्टैंड अप इंडिया, कुछ दिन दिन बाद ये नारे देंगे, सिट डाउन इंडिया, ले डाउन इंडिया, स्लीप फॉरएवर इंडिया.