पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के बाद उनके पुत्र और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की वकालत करते हुए कहा कि उनमें प्रधानमंत्री बनने के गुण हैं और वह अनुभवी नेता हैं. तेजस्वी ने मुख्यमंत्री की प्रशंसा की और कहा, “नीतीश कुमार की देख-रेख और उनके नेतृत्व में बिहार तरक्की कर रहा है. वह केंद्र में मंत्री और बिहार के मुख्यमंत्री पद को संभाल चुके हैं.
 
तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार इतने कर्तव्यनिष्ठ, ईमानदार हैं, तो वह प्रधानमंत्री क्यों नहीं बन सकते?” तेजस्वी ने यह भी कहा कि नीतीश कुमार और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी में से जो बीजेपी को हराएगा, वही प्रधानमंत्री का प्रत्याशी होगा. 
 
नीतीश PM बनने लायक: लालू
आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद ने मंगलवार को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाम की वकालत की थी और कहा था कि अगर नीतीश प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनते हैं, तो आरजेडी उनका समर्थन करेगा. उन्होंने कहा कि नीतीश की इतनी तारीफ हो रही है कि उनका कद काफी ऊंचा हो गया है. नीतीश के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार की दौड़ में शामिल होने पर आरजेडी के समर्थन के एक सवाल के जवाब में लालू ने कहा था, “इसमें कोई दो राय है क्या? अगर नीतीश प्रधानमंत्री का उम्मीदवार घोषित होते हैं, तो आरजेडी उनका समर्थन करेगा.”
 
‘RJD-JDU दोनों की विचारधारा एक’
आरजेडी और जेडी (यू) के विलय के संबंध में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि यह दोनों पार्टियों के नेतृत्व को तय करने दीजिए. उन्होंने कहा, “आरजेडी और जेडी (यू) की विचारधाराएं अलग नहीं हैं. दोनों दलों में गठबंधन है और दोनों बिहार में सरकार चला रहे हैं.”