नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से संबंधित कंपनी पूर्ति ग्रुप को लेकर राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जवाब देते हुए कहा कि कैग की रिपोर्ट में गडकरी के नाम का जिक्र नहीं है. दूसरी तरफ लोकसभा में अमेठी फूड पार्क के मुद्दे पर हंगामा हुआ. फूड प्रोसेसिंग मंत्री हरसिमरत कौर ने इस मामले पर कहा, ‘आदित्य बिरला ग्रुप ऑफ कंपनी ने फूड पार्क के लिए 2010 में अनुमति मांगी थी, लेकिन उन्हें यूपीए सरकार से अनुमति नहीं मिली थी. हमने फूड पार्क बनाने का फैसला रद्द नहीं किया, कंपनी ने खुद इससे अपना हाथ खींचा है. कंपनी को पार्क बनाने के लिए 50 एकड़ की जमीन चाहिए थी जो उसे नहीं मिली. अंत में कंपनी ने खुद फैसला लिया, वह अब पार्क नहीं बनाना चाहती.’