दुलियाजान(असम). असम में अवैध घुसपैठ के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार भारत-बांग्लादेश सीमा सील कर देगी. असम के डिब्रूगढ़ जिले के दुलियाजान में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा, “असम में घुसपैठ को लेकर कांग्रेस कभी परेशान नहीं हुई. वोट बैंक की राजनीति के चलते उसने राज्य को बर्बाद कर दिया. हमलोग सीमा को पूरी तरह सील करने जा रहे हैं, ताकि घुसपैठिए असम में प्रवेश नहीं कर सकें.” 
 
केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, “जब से बांग्लादेश बना है, तब से असम में घुसपैठ हो रही है. मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि आपने सीमा सील क्यों नहीं की? आपने बांग्लादेशियों को प्रवेश करने से क्यों नहीं रोका?” उन्होंने कहा, “मैंने भारत-बांग्लादेश सीमा क्षेत्र का दौरा किया है और बांग्लादेशी अधिकारियों से बातचीत भी की है. हमारी सरकार घुसपैठ की समस्या दूर करने के लिए प्रतिबद्ध है. सीमा सील करने के लिए हमलोगों को थोड़ा वक्त चाहिए.”
 
भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए राजनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार खत्म करने का वादा किया है. जब से केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी है, तब से केंद्र में भ्रष्टाचार का एक भी मामला उजागर नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि अगर असम में बीजेपी जीतेगी तो यहां भी शून्य भ्रष्टाचार सुनिश्चित किया जाएगा. उन्होंने कहा, “हमलोग भ्रष्टाचार को बर्दाश्त करने नहीं जा रहे हैं.”
 
केद्रीय गृहमंत्री ने पानी, बिजली और सड़क के मुद्दे पर भी कांग्रेस पर प्रहार किया. उन्होंने कहा कि राज्य के 60 प्रतिशत गांवों में अभी तक बिजली नहीं पहुंची है. उन्होंने कहा कि राज्य में आदिवासियों और चाय बागानों के श्रमिकों की दशा बहुत ही खराब है.
 
अगर सरकार बागान श्रम कानून को सही ढंग से लागू की होती तो इनकी यह दशा नहीं होती. राजनाथ ने असम के भूमिगत उग्रवादी संगठनों से हिंसा त्याग कर बातचीत करने की भी अपील की. विदित हो कि असम में चार और 11 अप्रैल को विधानसभा चुनाव होने हैं.