पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में अपराध की घटनाओं में कमी आई है. उन्होंने दावा किया कि लोकसभा चुनाव के दौरान किए गए वादों को पूरा न करने से मोदी समर्थको की संख्या घटती जा रही है. उन्होंने कहा कि ब्रिटेने के एक पत्रकार ने 2014 में मोदी इफेक्ट नाम की किताब लिखी थी पर अब वो मोदी इफेक्ट से मोदी डिफेक्ट पर किताब लिख रहे हैं. नीतीश ने कहा कि यह 25 फरवरी को जारी ओपोन मैगजीन में छापा है मोदी इफेक्ट बिकम्स मोदी डिफेक्ट.
 
नीतीश ने कहा कि अपराध के मामले में देश में बिहार का स्थान 12वां है और विपक्ष के नेता जो आंकड़े पेश करते हैं, उसका कोई आधार नहीं हैं. उन्होंने दावा किया कि सरकार किसी भी अपराधी को नहीं बचा रही है. मुख्यमंत्री ने सदन में राज्यपाल के अभिभाषण पर हुई चर्चा के जवाब में कहा, “विपक्ष के नेताओं को केवल सवाल पूछने आता है, लेकिन वे जवाब सुनने को तैयार नहीं हैं. विपक्ष के पास धैर्य नहीं है.” 
 
उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि लव जेहाद, घर वापसी और गोमांस का मुद्दा ठंडा पड़ने के बाद अब वे देशभक्ति की बात कर रहे हैं. उन्होंने बीजेपी से सवालिया लहजे में कहा, “तिरंगा लहराना तो आसान है, लेकिन तिरंगा बनाने में आपकी क्या भूमिका है? दलित शोधछात्र रोहित वेमुला को प्रताड़ित किया गया और अब ये लोग रविदास जयंती मना रहे हैं.” 
 
नीतीश ने कहा कि विपक्ष की साजिश किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने दी जाएगी. नेताओं की हत्या पर नीतीश ने कहा कि नेताओं की सुरक्षा का भी रिकार्ड पुलिस अधिकारियों से मांगा गया है. उन्होंने कहा कि दुष्कर्म मामले में आरोपी विधायक राजबल्लभ यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापे मार रही है. वह जाएगा कहां? आरोपी विधायक को कानून के कटघरे में खड़ा होना पड़ेगा. न्यायालय से अपील की जाएगी कि इस मामले की सुनवाई तेजी से की जाए.”