पटना. जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) विवाद के बीच राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि देश के ज्वलंत मुद्दों से केन्द्र सरकार लोगों का ध्यान हटाना चाहती है, यही कारण है कि इस मुद्दे को तूल दिया जा रहा है. उन्होंने अपने खास अंदाज में दिल्ली पुलिस को निकम्मा बताते हुए कहा कि पुलिस सिर्फ टुकुर-टुकुर देख रही है.
 
पटना में केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार अपनी नाकामी छिपाने के लिए जेएनयू जैसे मुद्दे को तूल दे रही है. इसमें देशद्रोह जैसा कोई मुद्दा ही नहीं है.
 
‘केंद्र दे रही है पुलिस को आदेश’
जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया की अदालत परिसर में हुई मारपीट की घटना के विषय में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “दिल्ली पुलिस निकम्मी हो चुकी है, जो केंद्र सरकार आदेश दे रही है, वो बस उसी का वह पालन कर रही है.”
 
‘देश को बांट रही है बीजेपी’
लालू ने कहा कि बीजेपी देश को राष्ट्रवाद के नाम पर बांटना चाहती है. केंद्र सरकार हैदराबाद के मामले व अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए जेएनयू की घटना को देशद्रोह का रंग दे रही है. कन्हैया निर्दोष है, पूरे मामले में बीजेपी व आरएसएस दोषी है. लालू ने आगे कहा, “जब सईंया भए कोतवाल तो अब डर काहे का. इसलिए पुलिस इस मामले में केवल टुकुर-टुकुर देख रही है.” 
 
बता दें कि देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार कन्हैया को बुधवार को जब पटियाला हाउस अदालत में पेश किया गया था तब कुछ लोगों ने उसके साथ मारपीट की थी.