नई दिल्ली. बीजेपी की दिल्ली इकाई ने आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के प्रथम वर्ष को राष्ट्रीय राजधानी के इतिहास में एक काला वर्ष करार दिया और कहा कि दिल्ली सरकार अपने चुनावी वादे पूरे करने में विफल रही और इसने जनता को धोखा दिया है.
 
दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा, “दिल्ली के इतिहास में पिछला एक साल एक काला वर्ष साबित हुआ है. दिल्लीवासियों ने पिछले साल आम आदमी पार्टी को राजनीति में बदलाव के लिए ऐतिहासिक जनादेश दिया था, लेकिन यह धोखे का एक साल साबित हुआ.”
 
उपाध्याय ने कहा कि प्रत्येक दिन एक नया संवैधानिक संकट पैदा कर के दिल्ली सरकार ने विकास और प्रशासनिक कामकाज को बाधित किया है. दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने इस बारे में एक रिपोर्ट पेश की कि केजरीवाल सरकार किस तरह संवैधानिक संकट पैदा करने की आदी बन गई और इसके कारण विकास व प्रशासनिक कामकाज रुक गए.
 
गुप्ता ने कहा, “यह साल धोखे का साल साबित हुआ. सरकार ने संवैधानिक झगड़े पैदा कर विकास व प्रशासन को ठप कर दिया.” उपाध्याय ने कहा कि दिल्ली बीजेपी रविवार को एक विरोध दिवस मनाएगी. उन्होंने कहा, “कल (रविवार) हम आप सरकार के एक साल पूरा होने पर जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन करेंगे. यह सरकार विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए वादे पूरे करने में विफल रही है.”