पटना. बिहार में मुख्य विपक्षी दल बीजेपी नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जेडी(यू) और आराजेडी के उत्तर प्रदेश मिशन पर निशाना साधते हुए सवालिया लहजे में कहा कि यूपी में बीजेपी के सामने लालू प्रसाद और नीतीश कुमार की क्या ताकत है.
 
बीजेपी प्रदेश कार्यालय में मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार उत्तर प्रदेश में छोटी-छोटी पार्टियों से हाथ मिलकार बीजेपी को चुनौती देने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वे वहां सफल नहीं हो पाएंगे.
 
उन्होंने बिहार में गिरती कानून व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि एक तरफ बिहार जल रहा है और दूसरी तरफ नीतीश वंशी बजा रहे हैं. उन्हें बिहार की कोई चिंता नहीं है.
 
मोदी ने कहा कि बीजेपी ने तय किया था कि महागठबंधन की सरकार के खिलाफ छह माह तक कुछ भी नहीं बोलेंगे, लेकिन दो माह के भीतर ही बिहार की जो हालत हो गई है, उसमें और दिनों तक हाथ पर हाथ धरे बैठे नहीं रहा जा सकता.
 
बता दें कि जेडी (यू) के बिहार प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने घोषणा की है कि उनकी पार्टी यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में बिहार की तर्ज पर ही महागठबंधन कर चुनाव लड़ेगी. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने 31 जनवरी को लखनऊ का दौरा किया था और पार्टी नेता नीतीश कुमार दो फरवरी को उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में आयोजित लटिया महोत्सव में शामिल हुए थे.