मुंबई. महाराष्ट्र की देवेंद्र फड़नवीस सरकार ने एनसीपी नेता और पूर्व डिप्टी सीएम अजित पवार समेत अलग-अलग पार्टियों के कुल 70 नेताओं के अगले 10 साल तक को-ऑपरेटिव चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है. राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार के आरोप में राज्य सहकारिता बैंक के पूरे निदेशक मंडल को बर्खास्त भी कर दिया है.
 
सरकार ने जिन निदेशकों को बर्खास्त किया है और उनके अगले 10 साल तक चुनाव लड़ने पर बैन लगाया है उनमें एनसीपी के अजित पवार, हसन मुश्रीफ, दिलीप सोपल, विजय सिंह मोहिते पाटिल, राहुल मोटे, जयप्रकाश दांडेगावकर और बालासाहेब सरनाईक शामिल हैं.
 
सरकार ने कांग्रेस के मधुकर चव्हाण, विजय वडेट्टीवार, माणिकराव कोकाटे, आनंदराव अडसूल के साथ ही बीजेपी के पांडूरंग फुंडकर और पीजन्ट्स एण्ड वर्कर्स पार्टी के जयंत पाटिल, मीनाक्षी पाटिल के भी दस साल चुनाव लड़ने पर बैन लगा दिया है.