लखनऊ. दिल्ली से नोएडा तक एनएच 24 को 14 लेन की सुपर हाइवे बनाने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट को क्लीयरेंस देने के लिए यूपी सरकार के वन विभाग ने 44 हजार पेड़ लगाने और इनकी देखभाल के लिए 20 करोड़ रुपए की मांग की है.

सूत्रों के मुताबिक यूपी सामाजिक वानिकी विभाग ने फिलहाल इस प्रोजेक्ट को एनओसी देने से इनकार कर दिया है. विभाग ने सड़क बनाने वाली एजेंसी NHAI से कहा है कि इस प्रोजेक्ट के लिए 22027 पेड़ काटे जाएंगे इसलिए इसकी भरपाई जरूरी है.

22 हजार पेड़ कटेंगे इसलिए 44 हजार पेड़ लगाया जाए

सूत्रों के मुताबिक विभाग ने एनएचएआई से कहा है कि वो 44 हजार पेड़ लगवाए और इन पेड़ों की तीन साल तक देखभाल के लिए करीब 20 करोड़ रुपए मुहैया कराए तो प्रोजेक्ट को क्लीयरेंस दिया जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ही इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया है जिसके तहत 30 महीने के अंदर एनएच 24 को 14 लेन का बना दिया जाएगा. इसके पूरा होने के बाद दिल्ली से मेरठ जाने में 45 मिनट और मुजफ्फरनगर पहुंचने में 2 घंटे का वक्त लगेगा.