नोएडा. करीब 8 हजार करोड़ की लागत से बनने जा रहे दिल्ली-डासना-मेरठ एक्सप्रेस-वे का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोएडा में शिलान्यास कर दिया है. इस समारोह में केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और यूपी के राज्यपाल राम नाईक के अलावा कई वरिष्ठ नेता भी शामिल थे.

शिलान्यास के बाद जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि विकास की रफ्तार अब रुकने वाली नहीं है. मेरठ का विकास दिल्ली से भी ज्यादा तेज गति से होगा. पीएम मोदी ने कहा कि अब नए रास्ते नए अवसर पैदा करेंगे. अब देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता.

इस मौके पर पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए कहा कि अटल जी ने इस देश को चारों दिशाओं से जोड़ दिया है. उन्होंने कहा कि स्वर्णिम चतुर्भुज योजना अटल जी का सपना थी. इस योजना से अटल जी ने देश को नई दिशा प्रदान की है.

पीएम मोदी ने कहा कि अब हम पश्चिमी यूपी के विकास को गति देंगे. इस हाइवे से उत्तराखंड का भी विकास होगा और इस हाइवे की तरह ही चारधाम यात्रा के लिए भी बहतर इंतजाम किए जाएंगे.

विपक्ष पर साधा निशाना

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश सरकार और विपक्ष पर भी जमकर निशाना साधा. पीएम ने कहा कि मैं सभी राजनीतिक दलों से आग्रह करता हूं कि संसद को सुचारू रूप से चलने दें. पीएम ने कहा कि हमें लोकसभा में बोलने का अवसर नहीं मिल रहा है. विपक्ष संसद नहीं चलने दे रहा है, इससे देश के विकास में बाधा उत्पन्न हो रही है.

पीएम मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के किसानों का बहुत बुरा हाल है. यहां किसानों को समय पर उनका भुगतान नहीं किया जाता. मैं सीएम अखिलेश से आग्रह करता हूं कि राज्य में किसानों को समय पर भुगतान किया जाए और युवाओं के लिए ज्यादा से ज्यादा अवसर उपलब्ध कराए जाएं.