नई दिल्ली. बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) ने अल-जज़ीरा के एक टॉक शो में राम माधव के अखंड भारत को लेकर दिए गए बयान से किनारा कर लिया है. राम माधव के बयान पर RSS ने कहा, अखंड भारत बनाने का विचार राजनीतिक नहीं, बल्कि सांस्कृतिक है. उन्हें अपनी बात रखने का पूरा अधिकार है, लेकिन और सरकार यह अच्छे से जानती है कि भारत और पाकिस्तान दो स्वायत्त देश हैं. हालांकि RSS के पूर्व प्रवक्ता और बीजेपी के महासचिव राम माधव अब भी अपने बयान पर कायम हैं.
 
 

 
क्या कहा राम माधव ने 
अल-जज़ीरा को दिए इंटरव्यू में राम माधव ने कहा था कि को अब भी उम्मीद है कि भारत-पाकिस्तान और बांग्लादेश एक दिन साथ आएंगे और यही उनका भी सपना है. माधव ने कहा, RSS को अभी भी लगता है कि करीब 60 साल पहले यह हिस्से जो कुछ ऐतिहासिक वजहों से अलग हो गए थे, वह फिर से सद्भावना के साथ एक साथ हो जाएंगे और अखंड भारत का निर्माण करेंगे. इसके साथ ही माधव ने यह भी कहा कि वह यह विचार बतौर RSS सदस्य ही दे रहे हैं. उन्होंने साफ किया कि इसका मतलब यह नहीं है कि इसे हासिल करने के लिए हम किसी देश के साथ युद्ध करेंगे या उस पर कब्ज़ा कर लेंगे, बिना किसी जंग के आपसी सहमति से यह मुमकिन हो सकता है.
 
भारत को फिर बताया एक हिंदू राष्ट्र
इसी साल माधव ने एक बयान दिया था कि भारत एक ‘हिन्दू देश’ है, जिसके बारे में सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि ‘यहां एक विशेष तरह की संस्कृति और सभ्यता का, एक विशेष तरह की जीवन शैली का पालन किया जाता है. हम इसे हिन्दू कहते हैं, क्या आपको इससे कोई परेशानी है? भारत में एक संस्कृति है, हम सब एक हैं, हम एक देश हैं.’
 
बीजेपी ने भी माधव के बयान से पल्ला झाड़ा
माधव के बयान पर बीजेपी ने कहा कि वह उनके निजी विचार हैं और मोदी सरकार इस बारे में स्पष्ट है कि भारत और पाकिस्तान दो संप्रभु राष्ट्र हैं. भाजपा प्रवक्ता एमजे अकबर ने 1999 में लौहार यात्रा के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा कहे गए उस वाक्य को दोहराया, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत और पाकिस्तान संप्रभु राष्ट्रों के रूप में वार्ता कर रहे हैं ‘और वह तथ्य एक तथ्य है.’ यह पूछे जाने पर कि जब पार्टी और सरकार का मत स्पष्ट है तो भाजपा के एक महत्वपूर्ण महासचिव ने ऐसा बयान क्यों दिया, अकबर ने कहा, माधव एक खास सवाल का जवाब दे रहे थे..उन्हें अपने विचार रखने का अधिकार है लेकिन सरकार के रूख में किसी तरह के स्पष्टीकरण की जरूरत नहीं है.
 
कांग्रेस ने साधा निशाना
कांग्रेस ने माधव के बयान को महज़ प्रचार करार दिया है. कांग्रेस प्रवक्ता अजय कुमार ने कहा है कि RSS और भाजपा अपनी असफलता से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए देश को भ्रमित कर रहे हैं. एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी की तरह ये लोग प्रोपेगैंडा में लगे हुए हैं.