नई दिल्ली. दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और आम आदमी पार्टी (आप)के पांच अन्य नेताओं को वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से दर्ज कराए गए मानहानि के मामले में नोटिस जारी किया. कोर्ट ने केजरीवाल, कुमार विश्वास, राघव चड्ढा, संजय सिंह व दीपक वाजपेयी से अगले साल पांच फरवरी तक जवाब मांगा है.
 
जेटली ने उन पर आप नेताओं द्वारा डीडीसीए में हुए भ्रष्टाचार में संलिप्त होने का आरोप लगाने पर क्षतिपूर्ति के रूप में 10 करोड़ रुपये की मांग की है. जेटली ने इन सभी के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट में आपराधिक मानहानि का मुकदमा भी दर्ज कराया है. जेटली का कहना है कि आप नेताओं के बयान से उनकी छवि को ‘अपूरणीय क्षति’ पहुंची है. 
 
बता दें कि जेटली 2013 तक कुल 13 साल के लिए डीडीसीए के अध्यक्ष रहे थे. केजरीवाल की मांग है कि डीडीसीए मामले की निष्पक्ष जांच के लिए जेटली को केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे देना चाहिए या उन्हें हटा देना चाहिए.