नई दिल्ली. 19 दिसंबर यानी नेशनल हेराल्ड केस में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी की पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी का दिन. 19 दिसंबर ही वो तारीख थी जब 1978 में देश की संसद ने सोनिया की सास और राहुल की दादी पूर्व पीएम इंदिरा गांधी को सात दिन के लिए तिहाड़ जेल भेज दिया था.
 
 
19 दिसंबर, 1978 को लोकसभा ने विशेषाधिकार हनन के एक मामले में प्रस्ताव पारित करके इंदिरा गांधी को सत्र की समाप्ति तक के लिए तिहाड़ जेल भेजने का आदेश दिया था. स्पीकर की तरफ से गिरफ्तारी का आदेश मिलने के बाद इंदिरा संसद से सीधे तिहाड़ जेल गई थीं. इंदिरा 7 दिन तक जेल में रहीं और इस दौरान सोनिया गांधी उनके लिए घर का खाना लेकर जाती थीं.
 
 
इंदिरा गांधी पर आरोप था कि उन्होंने संसद में पूछे गए एक सवाल का जवाब देने के लिए तथ्य और दस्तावेज जुटा रहे अधिकारियों को धमकाया और उनके काम को रोकने की कोशिश की. संसद की विशेषाधिकार समिति ने इस मामले की जांच करने के बाद इंदिरा को दोषी पाया था लेकिन इसके लिए क्या सजा दिया जाए, ये लोकसभा पर छोड़ दिया था.