लखनऊ. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत द्वारा जीते जी अयोध्या में राम मंदिर देखने के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए बाबरी मस्जिद और राम मंदिर का केस लड़ रहे मुख्य पक्षकार हाशिम अंसारी ने चुनौती दी है कि भागवत में दम है तो अयोध्या आएं और मंदिर बनाकर दिखाएं.
 
हाशिम अंसारी ने कहा कि 6 दिसंबर को बाबरी विध्वंस की बरसी पर मातम दिवस मनाने का ऐलान कर दिया है. संघ प्रमुख भागवत ने कोलकता में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि उनके जीवनकाल में ही राम मंदिर का निर्माण हो सकता है.
 
 
भागवत ने कहा था कि ये कब होगा, कैसे होगा, ये अभी कोई नहीं कह सकता लेकिन ऐसा होगा. भागवत ने कहा था कि अगर अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाना है तो बलिदान देने की तैयारी भी रखनी होगी. 
 
उन्होंने कहा था, ”मंदिर बनना है. कब कैसे अवसर आएगा आज कोई नहीं बता सकता. लेकिन कब, कैसे कितनी तैयारी रखनी पड़ेगी. आपके सामने जीवन है. जो जीवन हंसते-हंसते चल रहे हैं वो भी हैं. हमें जीवन देने की तैयारी रखनी होगी. ये करेंगे तो भव्य मंदिर बनेगा. हम भारत की भूमि से सारी पृथ्वी को शि‍क्षा देंगे.”