Hindi other facebook, ECI, Elections, Social, India, tech news, India News http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/facebook-register-to-vote.jpg

वोटर आईडी बनवाने के लिए अब Facebook पर करें एक क्लिक

वोटर आईडी बनवाने के लिए अब Facebook पर करें एक क्लिक

  • By
  • |
  • Updated
  • :
  • Saturday, October 8, 2016 - 19:01
  Facebook,  ECI,  Elections,  Social,  India, tech news, india news

now you can make your voter id card with the help of facebook

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
वोटर आईडी बनवाने के लिए अब Facebook पर करें एक क्लिकnow you can make your voter id card with the help of facebookSaturday, October 8, 2016 - 19:01+05:30
उत्तराखंड. अब आपको वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए ना ही सरकारी दफ्तर के चक्कर लगाने होंगे और ना ही उलझाने वाली वेबसाइट्स के चक्कर में सर दर्द करना होगा. फेसबुक पर एक्टिवेट हुए एक खास बटन पर क्लिक कर भी वोटर आईडी कार्ड बनवाया जा सकेगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
दरअसल उत्तराखंड में आगामी विधान सभा चुनावों में मतदाता पंजीकरण अभियान के लिये फेसबुक ने एक खास बटन आज ऐक्टिवेट किया है. इसका नाम है रजिस्टर टू वोट’.
 
फेसबुक पर उन सभी 5 राज्यों के लिए यह बटन ऐक्टिवेट होगा जहां आने वाले समय में विधानसभा चुनाव होने हैं. इस पर क्लिक करने पर यह आपको इलेक्शन कमीशन की साइट पर ले जाएगा. जहां से  आप अपना वोटर आईडी कार्ड बनवा सकेंगे  .
 
इसे लेकर प्रदेश की मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी का कहना है कि फेसबुक की यह पहल स्वागत के लायक है. इस से युवाओं में वोटिंग के प्रति जागरूकता बढ़ेगी.  उन्होंने और जानकारी दी कि उत्तराखंड निर्वाचन कार्यालय ने फेसबुक पेज और ट्विटर एकाउंट भी शुरू कर दिए हैं. 
 
बता दें कि फेसबुक  नौ अक्टूबर तक मणिपुर, पंजाब, गोवा, उत्तराखण्ड और उत्तर प्रदेश के लिये रजिस्टर टू वोट का बटन ऐक्टिवेट करेगा.
First Published | Saturday, October 8, 2016 - 18:59
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.