Hindi other MP governor, Ram Naresh Yadav, vyapam, Vyapam Scam, bhopal, manoj tripathi http://www.inkhabar.com/sites/inkhabar.com/files/field/image/mp_6.jpg

व्यापमं घोटाला: राज्यपाल की विदाई के दौरान युवक ने की आत्मदाह की कोशिश

व्यापमं घोटाला: राज्यपाल की विदाई के दौरान युवक ने की आत्मदाह की कोशिश

    |
  • Updated
  • :
  • Thursday, September 8, 2016 - 11:19

youthy attempted self-immolation in front of Governor's protest against vyapam scam

व्यापमं घोटाला: राज्यपाल की विदाई के दौरान युवक ने की आत्मदाह की कोशिशyouthy attempted self-immolation in front of Governor's protest against vyapam scamThursday, September 8, 2016 - 11:19+05:30
भोपाल. व्यापमं घोटाले में राज्यपाल की गिरफ्तारी को लेकर एक युवक राजभवन के सामने आत्मदाह की कोशिश की. युवक ने जिस वक्त खुद को आग के हवाले किया उसी समय मध्य प्रदेश के राज्यपाल राम नरेश यादव का काफिला गुजर रहा था.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
युवक के इस हरकत से सकते में आए पुलिसकर्मियों ने युवक को बचाया. युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. फिलहाल उसका इलाज चल रहा है. युवक का नाम मनोज त्रिपाठी है. उसका आरोप है कि राज्यपाल की वजह से लाखों बच्चों का भिवष्य खराब हुआ है.
 
बता दें कि व्यापमं घोटाले में राज्यपाल राम नरेश यादव के खिलाफ शिकायत दर्ज हुई थी. उनका कार्यकाल भी बुधवार को खत्म हो गया है. राज्यपाल के खिलाफ 2015 में एसटीएफ ने व्यापमं घोटाल में शिकायत दर्ज की थी. रामनरेश पर पांच उम्मीदवारों के लिए सिफारिश करने का आरोप है. सबसे बड़ी बात यह है कि संवैधानिक छूट होने की वजह से राम नरेश की न तो गिरफ्तारी हुई और न ही उनसे मामले में कोई पूछताछ हुई.
 
बुधवार को राम नरेश का कार्यकाल खत्म हो गया है. अब उनको किसी प्रकार की संवैधानिक छूट नहीं मिल सकती है, इसलिए सीबीआई उनके खिलाफ अब एक्शन ले सकती है.
First Published | Thursday, September 8, 2016 - 10:27
For Hindi News Stay Connected with InKhabar | Hindi News Android App | Facebook | Twitter
(Latest News in Hindi from inKhabar)
Disclaimer: India News Channel Ka India Tv Se Koi Sambandh Nahi Hai

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.