नई दिल्ली. दिल्ली में बुधवार शाम 8.50 बजे के लगभग  भूकंप के झटके आए. लोगों ने भुकंप के तीव्र झटके महसूस किए.इसके साथ ही हरिद्वार, चमोली उत्तरकाशी, नई टिहरी, अलमोड़ा और देहरादून समेत उत्तरांचल के कई इलाकों में भी ये झटके महसूस किए गए. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.5 मापी गई. हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.  ये झटके मात्र 5 से 7 सेकंड तक रहे. इस दौरान लोगों को घबराकर घर से बाहर निकलते देखा गया. दिल्ली एनसीआर में भी लोग अपने दफ्तरों से बाहर निकल आए. 

यूरोपियन सीसमोलॉजिकल सेंटर के मुताबित इस भूकंप की तीव्रता 5.0 थी और इसका केंद्र देहरादून से 121 किलोमीटर दूरी पर था.  वहीं भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, भूकंप की तीव्रता 5.5 थी और भूकंप का केंद्र उत्‍तराखंड के रुद्रप्रयाग में जमीन के 30 किलोमीटर गहराई में था.  

उत्तर प्रदेश और हरियाणा के कुछ हस्सो से भी भूकंप के झटके की जानकारी मिली है. इसके अलावा पंजाब के चंडीगढ़ में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. ऐसे में देखा जाए तो लगभग पूरे उत्तर भारत में इसे महसूस किया गया. इस भूकंप से उत्तर भारत के क्षेत्रों से अभी तक किसी भी जान माल के नुकसान की कोई भी जानकारी सामने नहीं आई है. गौरतलब है कि इससे पहले भी इसी वर्ष जून में दिल्ली के साथ ही हरियाणा और आस पास के क्षेत्रों में भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए थे. उस समय भूकंप का केंद्र रहे हरियाणा के रोहतक में 22 किलोमीटर की गहराई पर पाया गया था.

दिल्ली NCR सहित हरियाणा, और राजस्थान में भूकंप के तेज झटके

4.5 तीव्रता के भूकंप से कांपा जम्मू-कश्मीर, जान-मान का नुकसान नहीं