ऩई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर की ‘नीच आदमी’ वाली टिप्पणी को लेकर कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि ‘भाजपा और पीएम मोदी भी कांग्रेस पर हमला करने के लिए इस तरह की भाषा का प्रयोग करते रहे हैं. हालांकि मैं मणिशंकर अय्यर के बयान की निंदा करता हूं और उम्मीद करता हूं कि वह इसके लिए माफी मांगेंगे.’ दरअसल आज गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के प्रचार के आखिरी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए एक विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि ‘मुझे लगता है कि ये आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है, इसमें कोई सभ्यता नहीं है, और ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है.’

बता दें कि अय्यर ने यह मोदी के उस बयान पर कहा था जिसमें उन्होंने कांग्रेस पर देश के निर्माण में बाबा साहब अंबेडकर की भूमिका को कम दिखाए जाने की बात कही थी. उन्होंने कहा था कि बाबा साहब अंबेडकर की भूमिका को कम करने की कोशिश बेकार रही क्योंकि जिस परिवार के लिए ऐसा किया गया, लोगों पर उससे ज्यादा प्रभाव बाबा साहब अंबेडकर का था.

वहीं राहुल से पहले मणिशंकर को जवाब देते हुए पीएम मोदी ने आज ही सूरत रैली में कहा कि ‘ये लोग हमें गधा, नीच, गंदी नाली का कीड़ा कह रहे हैं, गुजरात की जनता इनको सटीक और खतरनाक जवाब देगी. 18 दिसंबर को जनता बताएगी कौन है नीच.’ इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि, ‘‘श्रीमान मणिशंकर अय्यर ने आज कहा कि मोदी नीच है .मोदी नीच जाति का है. क्या यही भारत की महान परंपरा है? ये गुजरात का अपमान है. मुझे तो मौत का सौदागर तक कहा जा चुका है. गुजरात की संतानें इस तरह की भाषा का तब जवाब दे देगी, जब चुनाव के दौरान कमल का बटन दबेगा. मुझे भले ही नीच कहा है. लेकिन आप लोग अपनी गरिमा मत छोड़िएगा.’’ 

मणिशंकर के बयान पर PM मोदी का पलटवार, कहा- 18 दिसंबर को जनता बताएगी कौन है नीच

राहुल गांधी की नाराजगी के बाद मणिशंकर अय्यर ने नीच वाले बयान पर PM मोदी से मांगी माफी