पटनाः राजधानी पटना की सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली बेउर जेल गुरुवार को गोलियों की गड़गड़ाहट से थर्रा उठी. मिली जानकारी के अनुसार, जेल में तैनात एक कक्षपाल को उसके भांजे ने गोली मार दी. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी शख्स ने खुद को भी गोली मारकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाकर जांच शुरू कर दी है.

बेउर जेल में जिस कक्षपाल की हत्या की गई, उसका नाम संतोष बताया जा रहा है. जेल में तैनात सिपाहियों ने बताया कि वारदात गुरुवार सुबह की है. संतोष के भांजे ने जब उस पर गोली चलाई तो वह बुरी तरह जख्मी हो गया था. जिसके बाद जेल प्रशासन ने आनन-फानन में उसे इलाज के लिये PMCH भेजा, जहां इलाज के दौरान संतोष की मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि संतोष को गोली मारने के बाद उसके भांजे ने भी खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने घटनास्थल से हत्या में इस्तेमाल सरकारी पिस्टल और तीन जिंदा कारतूस बरामद किए हैं. घटना के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है. पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाकर जांच शुरू कर दी है.

घटना की खबर मिलते ही संतोष के परिवार में कोहराम मच गया. पुलिस संतोष के परिजनों से पूछताछ कर पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर संतोष का कत्ल क्यों किया गया. दोहरे हत्याकांड से इलाके के लोग सकते में हैं. वहीं जेल परिसर में भी पुलिस खासा अलर्ट हो गई है.

 

बिहार: भागलपुर में ट्रिपल मर्डर, दलित परिवार के चार लोगों का गला रेता, 3 की मौत