अहमदाबाद. गुजरात चुनाव 2017 के लिए पहले चरण का मतदान 09 दिसंबर को होना है. लेकिन बीजेपी ने इसके लिए अभी तक अपना घोषणा पत्र जारी नहीं किया है. जिसको लेकर कांग्रेस के होने वाले अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए इसे गुजरात की जनता का अपमान बताया है. पहली बार ऐसा हो रहा है जब चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी ने अपना मेनिफेस्टो जारी नहीं किया है. बता दें कि मैनिफेस्टो या घोषणा पत्र में पार्टी उन वादों को ऐलान करती है जिन्‍हें सरकार बनने के बाद वह अगले पांच सालों में पूरा करेगी. वहीं कांग्रेस अपना घोषणा-पत्र 7 दिन पहले जारी कर चुकी है.

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है और इसे गुजरात की जनता का अपमान बताया है. गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि भाजपा ने गुजरात के लोगों के प्रति अविश्वसनीय अनादर दर्शाया है. प्रचार अभियान खत्म हो गया लेकिन लोगों के लिए अब तक घोषणापत्र का उल्लेख नहीं है. गुजरात के भविष्य के लिए बीजेपी ने ना तो कोई विजन पेश किया है और न ही किसी तरह का आइडिया.

बता दें कि कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में सूबे के किसानों के कर्ज माफ करने, आधी कीमत में बिजली देने, 20 लाख युवाओं को रोजगार देंगे, पेट्रोल की कीमत 10 रुपये लीटर सस्ता करने, उच्च शिक्षा पाने वाले छात्रों को स्मार्टफोन और लैपटॉप देने के वादे किए हैं.

राहुल ने कहा कि गुजरात के भविष्य के प्रति कोई दृष्टि या विचार सामने नहीं रखे गये. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, जुमले का इस्तेमाल करना ही भाजपा का घोषणापत्र है. बता दें कि राज्य में नौ दिसंबर को पहले चरण में 89 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होगा. दूसरा चरण का मतदान 14 दिसंबर को है.

गुजरात चुनाव 2017: राहुल गांधी का पीएम मोदी पर 10वां वार, उठाया आदिवासियों की जमीन, शिक्षा और स्वास्थ्य का मुद्दा