नई दिल्ली. कर्नाटक में अभी चुनावों की तारीख का ऐलान भी नहीं हुआ है लेकिन बीजेपी और कांग्रेस ने कमर कस ली है. गुजरात चुनाव के नतीजों के बाद से उत्साहित नजर आ रहे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री से मुलाकात कर नसीहत दी है कि आतंकी और हिंदू चरमपंथी जैसे शब्द इस्तेमाल न करें. सिर्फ बयानों में ही नहीं बल्कि सोशल मीडिया पर भी ऐसे किसी शब्द का प्रयोग न करने के लिए कहा गया है. ये निर्देश खासतौर पर बीजेपी और आरएसएस के लिए ऐसे शब्द इस्तेमाल करने के संबंध में दिए गए हैं. राहुल गांधी ने शनिवार को दिल्ली में अपने आवास पर हुई मीटिंग में ही ये आदेश जारी किया है.

कांग्रेस किसी भी कीमत पर कर्नाटक में फिर से सत्ता में आने की तैयारियों में जुटी है वहीं बीजेपी ‘कांग्रेस मुक्त दक्षिण’ का सपना देख रही है. राज्य में इसी साल चुनाव होने हैं इसकी आहट पिछले दिनों बीजेपी और कांग्रेस के बीच चल रही जुबानी जंग को देखते हुए सुनी जा चुकी है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के कर्नाटक दौरे के बाद ही दोनों पार्टियों में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. सूत्रों के मुताबिक, राहुल ने पार्टी नेताओं को बीजेपी के जाल में न फंसने को कहा है, जिससे कि वो चुनाव में ध्रुवीकरण करने में सफल न हो पाएं.

बता दें कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने बीजेपी, संघ और बजरंग दल को उग्रवादी कह डाला था. इसे हाथोंहाथ लपकते हुए बीजेपी ने कांग्रेस पर हावी होते हुए सत्ताधारी पार्टी को बैकफुट पर ला दिया. बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा सीएम से माफी की मांग के लिए जेल भरो आंदोलन किया गया. भले ही सीएम ने माफी नहीं मांगी लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपील जारी कर कार्यकर्ताओं को कहना पड़ा कि वे किसी के लिए भी आतंकवादी और हिंदू चरमपंथी जैसे शब्द इस्तेमाल न करें.

बता दें कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के कर्नाटक दौरे से हिंदुत्व को लेकर बयान आ रहे हैं. योगी और सीएम सिद्धारमैया के बीच ट्विटर वॉर भी चली थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्विटर वॉर के बाद योगी आदित्यनाथ को खिलाड़ी बताया था. बताया जा रहा है कि कर्नाटक में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बीजेपी की तरफ से स्टार कैंपेनर होंगे. 

PM नरेंद्र मोदी ने यूपी CM योगी आदित्यनाथ को  खिलाड़ी बताकर कहा- ट्विटर पर योगी ने महारथियों को परास्त कर दिया