नई दिल्ली. गूगल ने वर्गीज़ कुरियन 94वें जन्मदिवस पर डूडल बनाकर भारत की श्वेत क्रांति को जगह दी है. गूगल के इस डूडल में कुरियन हैं और भैंस नजर आ रही हैं. साथ में दूध के कई बर्तन भी रखे हुए हैं.

बता दें कि भारत में 60 के दशक में दूध उत्पादन में क्रांति शुरू हुई थी जिले श्वेक क्रांति भी कहा जाता है. इसकी शुरूआत गुजरात से हुई थी.

हरित क्रांति की तर्ज पर ही दूध उत्पादन में भारत को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में यह काम वर्गीज़ कुरियन की अगुआई में हुआ था. जिसके बाद वर्गीज़ कुरियन को ‘भारत का मिल्कमैन’ कहा जाने लगा.

एक समय जब भारत में दूध की कमी हो गई थी, तो कुरियन के नेतृत्व में भारत को दूध उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में काम शुरू हुआ. कहा जाता है कि नब्बे के दशक तक आते-आते भारत ने दुग्ध उत्पादन में अमरीका को भी पीछे छोड़ दिया था.

गूगल ने वर्गीज़ कुरियन के 94वें जन्मदिवस पर यह डूडल उन्हें समर्पित किया है. गूगल ने लिखा है कि कुरियन ने भारत के दूध उद्योग को पूरी तरह बदल दिया है.