नई दिल्ली. गुरूवार से शुरू होने जा रहे संसद के शीतकालीन सत्र में सरकार की रणनीति के बारे में केन्द्रीय मंत्रियों ने विचार विमर्श किया और उम्मीद जताई कि कांग्रेस जीएसटी सहित विभिन्न सुधार विधेयकों को पारित कराने में सहयोग करेगी. सत्र में अपनाई जाने वाली सरकार की रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरूण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और संसदीय कार्य मंत्री एम वेंकैया नायडू की बैठक हुई.
 
इस बैठक में शमिल मुख्तार अब्बास नकवी ने बताया कि सरकार का एजेंडा है कि दोनों सदन सुगमता से चलें और विपक्ष के सहयोग से विधेयकों को पारित कराया जाए.
 
नकवी बताया कि सिंह, जेटली और नायडू सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने विभिन्न विपक्षी दलों के नेताओं से भेंट करके उनका सहयोग मांगा है. उन्होंने कहा, ”हमें राष्ट्रीय हित के महत्वपूर्ण सुधार विधेयकों को पारित कराने में कांग्रेस के सहयोग की उम्मीद है.” कुछ वित्तीय विधेयकों सहित कुल 38 विधेयक संसद की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं. इनमें महत्वपूर्ण जीएसटी विधेयक भी शामिल है.
 
सरकार ने गुरूवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है. बाद में प्रधानमंत्री निवास पर बीजेपी संसदीय दल एवं एनडीए के घटक दलों की कार्यकारिणी की बैठक होगी. लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने भी सत्र से पहले होने वाली पारंपरिक सर्वदलीय बैठक बुलाई गई हैं.